कॉमेडियन कपिल शर्मा के खिलाफ मुंबई में FIR

TNM Editor
By TNM Editor December 16, 2016 13:22 Updated

कॉमेडियन कपिल शर्मा के खिलाफ मुंबई में FIR

मुंबई : कॉमेडियन कपिल शर्मा की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं। मुंबई के वर्सोवा थाने में कपिल शर्मा के खिलाफ पर्यावरण संरक्षण अधिनियम और महाराष्ट्र रिजनल एंड टाउन प्लानिंग, एमआरटीपी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है।
जानकारी के अनुसार, कपिल शर्मा के खिलाफ ये कार्रवाई वर्सोवा में ऑफिस निर्माण के दौरान मैनग्रोव कटवाने की वजह से की गई है। पर्यावरण संरक्षण अधिनियम और एमआरटीपी अधिनियम के तहत कपिल के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया गया है। कपिल पर वर्सोवा स्थित अपने ऑफिस के निर्माण के दौरान मैंग्रोव पेड़ को कटवाने का आरोप है।
अंधेरी स्थित कोर्ट के निर्देश के बाद कॉमेडियन कपिल शर्मा के खिलाफ मुंबई पुलिस ने आईपीसी 187 और आईपीसी 52 के तहत मामला दर्ज किया है। अंधेरी के मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत ने बुधवार को सामाजिक कार्यकर्ता संतोष दौंडकर की शिकायत पर सुनवाई की और शर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया।

kapil sharma FIR

kapil sharma FIR

जिन धाराओं के तहत कपिल शर्मा के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, उसमें 5 साल की सजा का प्रावधान है। कपिल पर आरोप है कि उन्होंने चेंज ऑफ लैंड रुल्स किया क्योंकि यहां बिना इजाजत रेजिडेंशियल को कमर्शियल नहीं कर सकते। ये 52 ऑफ एमआरटीपी एक्ट के तहत एक गुनाह है, जिसमें 3 साल की सजा भी है।
बता दें कि कपिल ने दो महीने पहले पीएम मोदी को ट्वीट कर सनसनी मचा दी थी कि बीएमसी में अधिकारी उनसे रिश्वत मांग रहे हैं। कपिल शर्मा ने बीएमसी के अधिकारी पर रिश्वत लेने का आरोप लगाते हुए ट्वीट किया था और पीएम मोदी से पूछ था- कब आएंगे अच्छे दिन। सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर पीएम मोदी को टैग करके कपिल ने ट्वीट किया था कि वो बीते पांच साल से 15 करोड़ टैक्स भरते हैं लेकिन उनसे बीएमसी वाले 5 लाख की घूस मांग रहे हैं क्योंकि उन्हें ऑफिस बनवाना है। कॉमेडियन ने अपने ट्वीट में कहा था कि बीएमसी के एक अधिकारी ने काम के बदले उनसे पांच लाख रुपये मांगे हैं। इसके बाद बीएमसी ने कॉमेडियन पर गैरकानूनी निर्माण का आरोप लगाया था।

TNM Editor
By TNM Editor December 16, 2016 13:22 Updated
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*