आर्म्स एक्ट केस में सलमान बरी: एक घंटे तक कोर्ट को कराया इंतजार, जज ने 2 मिनट में सुनाया फैसला

TNM Editor
By TNM Editor January 18, 2017 14:04

आर्म्स एक्ट केस में सलमान बरी: एक घंटे तक कोर्ट को कराया इंतजार, जज ने 2 मिनट में सुनाया फैसला

जोधपुर.हिरण शिकार से जुड़े 18 साल पुराने आर्म्स एक्ट मामले में सलमान खान बुधवार को बरी हो गए। 1998 में “हम साथ-साथ हैं” की शूटिंग के दौरान सलमान के खिलाफ हिरण शिकार से जुड़े चार मामले दर्ज हुए थे। इनमें से एक मामला बिना लाइसेंस वाले हथियार से शिकार करने का था। इसी पर जोधपुर की लोअर कोर्ट का फैसला आया। सलमान एक घंटे देरी से कोर्ट पहुंचे। जज ने कहा, ”प्रॉसिक्यूशन यह साबित नहीं कर पाया कि 51 साल के सलमान के पास एक्सपायर्ड लाइसेंस वाला हथियार मौजूद था और उसका इस्तेमाल हुआ था। बेनिफिट ऑफ डाउट पर उन्हें बरी किया जाता है।” बता दें कि शिकार से जुड़े दो अन्य केस में सलमान दोषी पहले ही हाईकोर्ट से बरी हो चुके हैं। जबकि एक और मामले की सुनवाई जोधपुर कोर्ट में 25 जनवरी को है। जानिए कोर्ट रूम में क्या हुआ…

7 मिनट कोर्ट रूम में रहे सलमान

– सुबह 10 बजे ही जोधपुर के चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट का कोर्ट रूम वकीलों और मीडिया से भर गया।
– 10:30 बजे सुनवाई होनी थी। 11 बजे तक सलमान नहीं पहुंचे तो कोर्ट ने कहा कि आधे घंटे में उन्हें पेश कीजिए, नहीं तो फैसला लंच के बाद सुनाया जाएगा। जज उठकर अपने चेम्बर में चले गए।
– यह बताया गया कि सलमान जिस गाड़ी में आ रहे थे, उसमें काले रंग के शीशे थे। कानून का वॉयलेशन ना हो, इसलिए वे गाड़ी बदलकर आए। इसमें देर हुई।
– तय समय से करीब एक घंटा देरी से यानी 11:30 बजे सलमान कोर्ट पहुंचे। कोर्ट के स्टाफ ने उनसे साइन कराए। जज दलपतसिंह राजपुरोहित को इस बारे में बताया गया।
– जज के फैसला पढ़ने से पहले सलमान और उनकी बहन अलवीरा के चेहरे पर तनाव था।
– जज कोर्ट रूम में आए। उन्होंने पहले सलमान का नाम पूछा। फिर कहा कि आप पर आर्म्स एक्ट के तहत धारा 2/25 और धारा 27 के तहत दो मामले हैं, आपको दोनों मामलों में बरी किया जाता है। प्रॉसिक्यूशन यह साबित नहीं कर पाया कि आरोपी के पास एक्सपायर्ड लाइसेंस वाला हथियार मौजूद था और उसका इस्तेमाल हुआ था।
– फैसला सुनते ही सलमान और अलवीरा के चेहरे पर खुशी नजर आई। दोनों एक दूसरे को देखकर मुस्करा दिए।
– सलमान कुल 7 मिनट कोर्ट रूम में रहे। बरी होने के बाद सलमान ने कोर्ट रूम में लोगों से हाथ मिलाए। कुछ फैन्स को ऑटोग्राफ भी दिए। बाद में वे अलवीरा के साथ कोर्ट से रवाना हो गए।

पढ़ें अपडेट्स…

01:10 PM:प्रॉसिक्यूशन के वकील बीएस भाटी ने कहा कि सलमान को बरी करने के फैसले की स्टडी करने के बाद हम सेशंस कोर्ट में अपील करेंगे।

01:19 PM:सलमान के वकील सारस्वत ने कहा कि कोर्ट ने हमारी इस दलील को माना कि सलमान को इस केस में फंसाया गया था।

01:08 PM:जज ने 102 पेज का ऑर्डर दिया है। जज ने कहा कि प्रॉसिक्यूशन यह साबित नहीं कर पाया कि आरोपी के पास एक्सपायर्ड लाइसेंस वाला हथियार मौजूद था और उसका इस्तेमाल हुआ था।

01:05 PM:सलमान कुल 7 मिनट कोर्ट रूम में रहे। बरी होने के बाद उन्होंने फैन्स को ऑटोग्राफ भी दिए।

12:30 PM:सलमान के वकील एचएम सारस्वत ने कहा कि हमने कोर्ट में दलीलें दी थीं कि सलमान के खिलाफ हथियार केस में कोई सबूत नहीं था। न उनके जोधपुर में रहने के दौरान सबूत मिला, न कथित शिकार के दौरान मिला। उनके पास तो एयर गन्स थीं।

12:15 PM:विश्नेाई समाज के वकीलों ने सलमान के खिलाफ ऊपरी अदालत में जाने के संकेत दिए हैं।
11:55 AM:जज ने दो लाइन में फैसला सुनाया। पहले नाम पूछा और फिर कहा कि आप बरी किए जाते हैं।
11:50 AM:केस में क्या कमी रह गई, इस सवाल पर सरकारी वकील बोले, “फैसले की कॉपी मिलने के बाद ही इस पर विचार किया जाएगा।”
11:47 AM:सरकारी वकील ने कहा, सलमान को बेनिफिट ऑफ डाउट के आधार पर बरी किया गया।
11:45 AM:सलमान खान को बरी किया गया।
11:30 AM:सलमान कोर्ट पहुंचे।

सलमान के खिलाफ शिकार के 3 और आर्म्स एक्ट का 1 मामला
– 1998 में “हम साथ-साथ हैं” फिल्म की शूटिंग के दौरान सलमान खान पर 3 अलग-अलग जगहों पर हिरणों का शिकार करने का आरोप लगा।
– जोधपुर के पास भवाद गांव में 2 काले हिरणों, घोड़ा फार्म में 1 काले हिरण और कांकाणी गांव में 2 काले हिरणों का शिकार किया गया था।
– भवाद और घाेड़ा फॉर्म में हुए शिकार के मामले में लोअर कोर्ट ने सलमान को 1 साल और 5 साल की सजा सुनाई थी।
– बाद में हाईकोर्ट ने दोनों मामलों में सलमान को बरी कर दिया। अब इस फैसले को राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है।
– सलमान पर आरोप था कि उन्होंने हिरणों के शिकार में जिन पिस्टल और राइफल का इस्तेमाल किया, उनके लिए जारी लाइसेंस की तारीख खत्म हो चुकी थी। इसी केस में जोधपुर की कोर्ट ने बुधवार को फैसला सुनाते हुए उन्हें बरी किया।
– सलमान के खिलाफ शिकार के एक और मामले में 25 जनवरी को सुनवाई है।

सैफ, तब्बू, नीलम, सोनाली पर क्या हैं आरोप?
– कांकाणी गांव में जिस वक्त हिरणों का शिकार हुआ, सलमान के साथ सैफ अली खान, सोनाली बेन्द्रे, तब्बू और नीलम भी मौजूद थे।
– सलमान पर हिरणों को गोली मारने का और सैफ समेत तीनों एक्ट्रेस पर उन्हें उकसाने का आरोप है।
– इस मामले में 25 जनवरी को सभी आरोपियों को आरोप सुनाए जाएंगे।

मामले का पता कैसे चला
– 1 अक्टूबर 1998 की रात सलमान पर कांकाणी गांव की सरहद में दो काले हिरणों के शिकार का आरोप लगा।
– गोली की आवाज सुनकर गांव वाले जाग गए। सलमान अपनी जिप्सी में सैफ, सोनाली, नीलम और तब्बू के साथ भाग निकले।
– गांव वालों ने 2 काले हिरण बरामद किए। दोनों हिरण की गोली लगने के कारण मौत हो चुकी थी।

8 दिन पहले ही लाइसेंस की तारीख खत्म हुई थी
– सलमान खान की रिवाॅल्वर और राइफल के लाइसेंस की तारीख 22 सितंबर 1998 तक थी। उन पर 1 अक्टूबर को शिकार करने का आरोप लगा।
– इसके बाद 15 अक्टूबर को सलमान के कहने पर हथियार मुंबई से लाकर जोधपुर में पुलिस के सामने पेश किए गए।
– 22 सितंबर से 15 अक्टूबर के बीच हथियार गुम या चोरी होने की रिपोर्ट नहीं थी।
– अगर हथियार किसी दूसरे के कब्जे में थे तो यह सलमान को ही साबित करना था, लेकिन वे ऐसा नहीं कर पाए।
– प्रॉसिक्यूशन ने इस मामले में कुल 28 गवाहों के बयान करवाए थे।

TNM Editor
By TNM Editor January 18, 2017 14:04
Write a comment

No Comments

No Comments Yet!

Let me tell You a sad story ! There are no comments yet, but You can be first one to comment this article.

Write a comment
View comments

Write a comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*